ये क़ातिलों का शहर – सैड शायरी

तू हवा के रुख पे चाहतों कादिया जलाने की ज़िद न कर,
ये क़ातिलों का शहर है यहाँ तूमुस्कुराने की ज़िद न कर।

– सैड शायरी

Leave a Reply

Me To Tha Bada Pehalvan - Ishq Shayari

Me To Tha Bada Pehalvan – Ishq Shayari