एक बार मुलाकात -रोमांटिक शायरी

  • By Admin

  • October 31, 2021

सूखी पड़ी है दिल की ज़मीं मुद्दतों से यार,बनके घटाएं प्यार की बरसात कीजिये।एक बार अकेले में मुलाकात कीजिये।

रोमांटिक शायरी

Related Post

मोहब्बत की कहूँ देवी या तुमको बंदगी कह दूँ,बुरा मानो न गर हमदम तो तुमको ज़िन्दगी कह दूँ। रोमांटिक शायरी

कुछ बातें हम से सुना करो,कुछ बातें हम से किया करो । रोमांटिक शायरी

अब आ गए हो आप तोआता नहीं कुछ याद,वरना कुछ हमको आप सेकहना ज़रूर था। - रोमांटिक शायरी

जब कभी सिमटोगे तुम... मेरी इन बाहों में आकर,मोहब्बत की दास्तां मैं नहीं मेरी धड़कने सुनाएंगी। - रोमांटिक शायरी

जरा छू लूं तुमको मुझको यकीन आ जाए,लोग कहते हैं कि मुझे साए से मोहब्बत है। - रोमांटिक शायरी

सारा जहां हो तुम( एडमिन द्वारा दिनाँक 12-07-2017 को प्रस्तुत )मेरे आँखों के ख्वाब, दिल के अरमान हो तुम, तुम से ही तो मैं हूँ , मेरी पहचान हो तुम, मैं ज़मीन हूँ अगर तो...

leaf-right
leaf-right