किसको दिखाएँ दर्द – दर्द शायरी – दर्द शायरी

  • By Admin

  • February 27, 2022

किसको दिखाएँ दर्द

पास आकर सभी दूर चले जाते हैं,
हम अकेले थे अकेले रह जाते हैं,
किसको दिखाएँ अपने दिल का दर्द
चाहने वाले ही जख्म दे जाते हैं।

- दर्द शायरी

Related Post

मेरी हर आह को वाह मिली है यहाँ,कौन कहता है दर्द बिकता नहीं है। दर्द शायरी

रिहाई दे दो हमें( प्रियादीप द्वारा दिनाँक 03-11-2016 को प्रस्तुत )रिहाई दे दो हमें अपनी मोहब्बत की कफस से,कि अब ये दर्द हमसे और सहा नहीं जाता।(कफस - पिंजड़ा) - दर्द शायरी

​ज़िस्म से मेरे तड़पता( एडमिन द्वारा दिनाँक 09-10-2016 को प्रस्तुत )​ज़िस्म से मेरे तड़पता दिल कोई तो खींच लो​,मैं बगैर इसके भी जी लूँगा मुझे अब ​ये यकीन ​है। - दर्द शायरी

मुझसे बिछड़ के तू भी रोयेगा उम्र भर,ये सोच ले कि मैं भी तेरी ख्वाहिशों में हूं। - दर्द शायरी

इलाजे-दर्दे-दिल तुमसे मसीहा हो नहीं सकता,तुम अच्छा कर नहीं सकते मैं अच्छा हो नहीं सकता। - दर्द शायरी

तुझे जब देखता हूँ( एडमिन द्वारा दिनाँक 07-03-2019 को प्रस्तुत )तुझे जब देखता हूँ तो खुद अपनी याद आती है,मेरा अंदाज़ हँसने का... कभी तेरे ही जैसा था। - दर्द शायरी

leaf-right
leaf-right