कोई जी लेता है -जिंदगी शायरी

  • By Admin

  • October 31, 2021

एक साँस सबके हिस्से से हर पल घट जाती है,कोई जी लेता है जिंदगी किसी की कट जाती है।

जिंदगी शायरी

Related Post

ये हुनर भी( एडमिन द्वारा दिनाँक 25-11-2016 को प्रस्तुत )जिंदगी में ये हुनर भी आजमाना चाहिए,अपनों से हो जंग तो हार जाना चाहिए। - जिंदगी शायरी

जब रूह किसी बोझ से थक जाती है,एहसास की लौ और भी बढ़ जाती है,मैं बढ़ता हूँ ज़िन्दगी की तरफ लेकिन,ज़ंजीर सी पाँव में छनक जाती है। - जिंदगी शायरी

जिन्दगी लत है( शिवा द्वारा दिनाँक 10-04-2016 को प्रस्तुत )जिन्दगी लत है,हर लम्हे से बेपनाह मोहब्बत है,मुश्किल और सुकून की कशमकश में,जिंदगी यूं ही जिये जाता हूँ... - जिंदगी शायरी

तुझसे कोई शिकायत नहीं है ऐ जिदंगीजो भी दिया है वही बहुत है। - जिंदगी शायरी

शुक्रिया ज़िन्दगी...जीने का हुनर सिखा दिया,कैसे बदलते हैं लोग चंद कागज़ के टुकड़ो ने बता दिया,अपने परायों की पहचान को आसान बना दिया,शुक्रिया ऐ ज़िन्दगी जीने का हुनर सिखा दिया। - जिंदगी शायरी

तुझसे कोई शिकायत नहीं है ऐ जिदंगीजो भी दिया है वही बहुत है। जिंदगी शायरी

leaf-right
leaf-right