कोशिश करने वालों की -प्रेरक शायरी

  • By Admin

  • October 31, 2021

नन्ही सी चींटी जब दाना लेकर चलती है,चढ़ती दीवारों पर सौ बार फिसलती है,आखिर उसकी मेहनत बेकार नहीं होती,कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती।

प्रेरक शायरी

Related Post

तूफानों से आँख मिलाओ,सैलाबों पर वार करो,मल्लाहों का चक्कर छोड़ो,तैर के दरिया पर करो। - प्रेरक शायरी

सोच को अपनी ले जाओ उस शिखर पर,ताकि उसके आगे सितारे भी झुक जाएं,ना बनाओ अपने सफर को किसी किश्ती का मोहताज,चलो इस शान से कि तूफान भी रुक जाय। प्रेरक शायरी

डर मुझे भी लगा फांसला देख कर,पर मैं बढ़ता गया रास्ता देख कर,खुद ब खुद मेरे नज़दीक आती गई,मेरी मंज़िल मेरा हौंसला देख कर । - प्रेरक शायरी

​​​हो गई है पीर पर्वत सी पिघलनी चाहिए,इस हिमालय से कोई गंगा निकलनी चाहिए​। प्रेरक शायरी

तूफान भी रुक जाय( सुमित कुमार आर्यन द्वारा दिनाँक 04-04-2017 को प्रस्तुत )सोच को अपनी ले जाओ उस शिखर पर,ताकि उसके आगे सितारे भी झुक जाएं,ना बनाओ अपने सफर को किसी किश्ती का मोहताज,चलो इस...

तेरे गिरने में तेरी हार नहीं - तू आदमी है अवतार नहीं - गिर, उठ, चल, फिर भाग - क्योंकि - जीत संक्षिप्त है इसका कोई सार नहीं। प्रेरक शायरी

leaf-right
leaf-right