खुशबू तेरे प्यार की – लव शायरी

आदत बदल दूँ कैसे तेरे इंतज़ार की,
ये बात अब नहीं मेरे इख़्तियार की,
देखा नहीं तुझको फिर भी याद कर लिया,
ऐसी बसी है खुशबू दिल में तेरे प्यार की।

- लव शायरी

Related Post

मेरा रेशा-रेशा मुझमें तेरे होने की गवाही देता है,क्या कम है कि मुझे हर जगह बस तू ही दिखाई देता है। लव शायरी

लाजवाब कर देते हैं तेरे खयाल दिल को,मोहब्बत तुझसे अच्छा तेरा तसव्वुर है। - लव शायरी

अक्सर ठहर कर देखता हूँअपने पैरों के निशान को,वो भी अधूरे लगते हैं - तेरे साथ के बिना। लव शायरी

दिल में छुपी यादों में संवारूँ तुझको,तू दिखे तो आँखों में उतारूँ तुझको,तेरे नाम को लव पर ऐसे सजाया है,सो भी जाऊं तो ख्वाबों में पुकारूँ तुझको। - लव शायरी

तेज बारिश में कभी सर्द हवाओं में रहा,एक तेरा ज़िक्र था जो मेरी सदाओं में रहा,कितने लोगों से मेरे गहरे रिश्ते थे मगर,तेरा चेहरा ही सिर्फ मेरी दुआओं में रहा। लव शायरी

साँसों की माला में पिरो कररखे हैं तेरी चाहतों के मोती अब तो तमन्ना यही है किबिखरूं तो सिर्फ तेरे आगोश में। - लव शायरी

leaf-right
leaf-right