जज़्बात बहक जाते हैं -रोमांटिक शायरी

  • By Admin

  • October 31, 2021

जज़्बात बहक जाते हैं जब तुमसे मिलते हैं,अरमान मचल जाते हैं जब तुमसे मिलते हैं,मिल जाते हैं आँखों से आँखें, हाथों से हाथ,दिल से दिल, रूह से रूह जब तुमसे मिलते हैं।

रोमांटिक शायरी

Related Post

मजा आता अगर गुजरी हुई बातों का अफसाना,कहीं से तुम बयाँ करते, कहीं से हम बयाँ करते। रोमांटिक शायरी

ख्वाहिश ए ज़िंदगी बस( एडमिन द्वारा दिनाँक 25-06-2015 को प्रस्तुत )ख्वाहिश-ए-ज़िंदगी बसइतनी सी है अब मेरी,कि साथ तेरा हो औरज़िंदगी कभी खत्म न हो । - रोमांटिक शायरी

दिल के राज( वी सिंह द्वारा दिनाँक 27-10-2018 को प्रस्तुत )दिल में है जो बात होंठों पे आने दे,मुझे जज्बातों की लहरों में खो जाने दे,आदी हो चुका हूँ मैं तेरी निगाहों का, अपनी निगाहों...

अजब मौसम है, मेरे हर कदम पे फूल रखता है,मोहब्बत में मोहब्बत का फरिश्ता साथ चलता है,मैं जब सो जाऊँ, इन आँखों पे अपने होंठ रख देना,यकीं आ जायेगा, पलकों तले भी दिल धड़कता है।...

कुछ बातें हम से सुना कर( एडमिन द्वारा दिनाँक 19-06-2015 को प्रस्तुत )कुछ बातें हम से सुना करो,कुछ बातें हम से किया करो ।मुझे दिल की बात बता दो तुम,होंठ ना अपने सिया करो।जो बात...

जो तेरे गुलाबी लब मेरे लबों को छू जायें,मेरी रूह का मिलन तेरी रूह से हो जाये,ज़माने की साज़िशों से बेपरवाह हो जायें,मेरे ख्वाब कुछ देर तेरी बाहों में सो जायें,मिटा कर फ़ासले हम प्यार...

leaf-right
leaf-right