तुझको देखेंगे सितारे -तारीफ़ शायरी

  • By Admin

  • October 31, 2021

तुझको देखेंगे सितारे तो स्याह माँगेंगे,और प्यासे तेरी ज़ुल्फों से घटा माँगेंगे,अपने कंधे से दुपट्टे को ना सरकने देना,वर्ना बूढ़े भी जवानी की दुआ माँगेंगे।

तारीफ़ शायरी

Related Post

हुस्न की बात चली( एडमिन द्वारा दिनाँक 15-09-2016 को प्रस्तुत )चुप ना होगी हवा भी, कुछ कहेगी घटा भी,और मुमकिन है तेरा, जिक्र कर दे खुद़ा भी।फिर तो पत्थर भी शायद ज़ब्त से काम लेंगे,हुस्न...

अदा आई, जफा आई,गरूर आया, इताब आया,हजारों आफतें लेकर...हसीनों का शबाब आया। - तारीफ़ शायरी

हुस्न की ये इन्तेहाँ नहीं है तो और क्या है,चाँद को देखा है हथेली पे आफताब लिए हुए। तारीफ़ शायरी

चाँद छुप जाये( ज़ैनब द्वारा दिनाँक 20-12-2017 को प्रस्तुत )आँखें तेरी हैं जाम की तरह,एक बार देखूं तो नशा छा जाये,होंठ तेरे जैसे खिलते कँवल,बोले तो हर चीज़ महक जाये,बाल हैं तेरे नागिन जैसे,जैसे आसमान...

परवाना पेशोपेश में हैजाए तो किस तरफ, तारीफ़ शायरी

दिलकश अंदाज हिंदी शायरी( एडमिन द्वारा दिनाँक 15-01-2016 को प्रस्तुत )बड़ा ही दिलकश अंदाज है तुम्हारा,जी करता है की फनाह हो जाऊं ।-------------------------------------- महक रही है जिंदगी आज भी जिसकी खुशबू से,वो कौन था जो...

leaf-right
leaf-right