तो पछताओगे बहुत -एटीट्यूड शायरी

  • By Admin

  • October 31, 2021

सर झुकाने की आदत नहीं है,आँसू बहाने की आदत नहीं है,हम खो गए तो पछताओगे बहुत,क्योंकि - हमारी लौट आने की आदत नहीं है।

एटीट्यूड शायरी

Related Post

उसका एटिट्यूड नहीं जाता( जितेश कुमार योगी द्वारा दिनाँक 08-08-2018 को प्रस्तुत )उसकी मोहब्बत और मेरी फ़ितरत में फर्क सिर्फ इतना है...कि उसका एटीट्यूड नहीं जाता और मुझे झुकना नहीं आता। - एटीट्यूड शायरी

मुझसे नफरत करनी है तो इरादे मजबूत रखना - जरा से भी चूके तो महोब्बत हो जायेगी। एटीट्यूड शायरी

उसकी मोहब्बत और मेरी फ़ितरत में फर्क सिर्फ इतना है...कि उसका एटीट्यूड नहीं जाता और मुझे झुकना नहीं आता। - एटीट्यूड शायरी

डरते नहीं हम सबको डरा देते हैं,अच्छे-अच्छों को सबक सिखा देते हैं,हम जहाँ कहीं भी रहते हैं - अपनी दरियादिली दिखा देते हैं। एटीट्यूड शायरी

तुम ज़िंदगी में आ तो गए हो मगर इतना याद रखना,हम जान दे देते हैं मगर जाने नहीं देते - । एटीट्यूड शायरी

भूलकर हमें अगर तुम रहते हो सलामत,तो भूलके तुमको संभालना हमें भी आता है,मेरी फ़ितरत में ये आदत नहीं है वरना,तेरी तरह बदल जाना मुझे भी आता है। एटीट्यूड शायरी

leaf-right
leaf-right