दुनिया ने हम पे -सैड शायरी

  • By Admin

  • October 31, 2021

दुनिया ने हम पे जब कोई इल्जाम रख दिया,हमने मुकाबिल उसके तेरा नाम रख दिया,इक ख़ास हद पे आ गई जब तेरी बेरुखी,नाम उसका हमने गर्दिशे-अय्याम रख दिया।

सैड शायरी

Related Post

क्यों कोई मेरा इंतजार करेगा,अपनी जिंदगी मेरे लिए बेकार करेगा,हम कौन सा किसी के लिए ख़ास हैं,क्या सोच कर कोई हमसे प्यार करेगा। सैड शायरी

मैं उसके चेहरे को दिल से उतार देता हूँ,मैं कभी कभी तो खुद को भी मार देता हूँ। - सैड शायरी

हमने तिनके चुने( अमीरुल हक़ द्वारा दिनाँक 19-12-2017 को प्रस्तुत )इश्क़ को या खुदा क्यों नजर लग गई,यूँ लगे मेरी हर दुआ बेअसर हो गई,हमने तिनके चुने आशियाँ के लिए,जाने कैसे आँधियों को खबर हो...

गजब का प्यार था - उसकी उदास आँखो में,महसूस तक ना होने दिया कि वो छोड़ने वाला है। सैड शायरी

कोई उम्मीद नहीं थी हमें उनसे मुहब्बत की - एक ज़िद थीकि दिल टूटे तो सिर्फ उनके हाथ से टूटे । सैड शायरी

पूछा था हाल उन्होंने मेरा बड़ी मुद्दतों के बाद...कुछ गिर गया है आँख में कह कर हम रो पड़े l - सैड शायरी

leaf-right
leaf-right