नंबर नहीं देंगे -फनी शायरी

  • By Admin

  • October 31, 2021

ये मोहब्बत नहीं, उसूल-ए-वफ़ा है ऐ दोस्त,हम जान तो दे देंगे जान का नंबर नहीं देंगे।

फनी शायरी

Related Post

ऐ खुदा... हिचकियों में कुछ तो फर्क डाला होता...अब कैसे पता करूँ कि कौनसी वाली याद कर रही है. - फनी शायरी

दिल दो किसी एक को,वो भी किसी नेक को,जब तक मिल ना जाए कोई,ट्राई करते रहो हर एक को। फनी शायरी

अंधकार के घोर तिमिर में हॅसने के बाद रुलाती है,तन्हाई और गम है साथ ये जिंदगी भी तड़पाती है,मेरी हालत भी मुझसे जलती और रूठ जाती है,जब आइंस्टीन और न्यूटन संग याद तुम्हारी आती है।...

कभी मुर्गा तो कभी बत्तख बना देता है,पता नहीं ये मास्टर मुझसे किस बात का बदला लेता है। फनी शायरी

ताज महल क्या चीज( विशाल चौहान द्वारा दिनाँक 12-06-2017 को प्रस्तुत )ताज महल क्या चीज है...हम इससे भी अच्छी इमारत बनवा देंगे,शाहजहां ने मुमताज़ को मुर्दा दफनाया था,हम तुझे ज़िंदा ही दफना देंगे। - फनी...

चाँद को तोड़ दूंगा - सूरज को फोड़ दूंगा - तू एक बार हाँ कर दे पहले वाली को छोड़ दूंगा। फनी शायरी

leaf-right
leaf-right