फनी शायरी प्रेत बन लटक जायेंगे – फनी शायरी – फनी शायरी

  • By Admin

  • February 27, 2022

फनी शायरी प्रेत बन लटक जायेंगे

तुम्हारा साया बन कर ताउम्र साथ निभायेंगे,
हर एक कदम तुम्हारी राहों को फूलों से सजायेंगे,
अगर मौत ने जुदा कर भी दिया हमें तुमसे,
तो तुम्हारी खिड़की के सामने वाले पेड़ पर,
प्रेत बन कर उलटे लटक जायेंगे।

- फनी शायरी

Related Post

आपकी सूरत मेरे दिल में( एडमिन द्वारा दिनाँक 04-02-2015 को प्रस्तुत )आपकी सूरत मेरे दिल में ऐसे बस गयी है,जैसे छोटे से दरवाजे में भैंस फंस गयी है..। - फनी शायरी

आसमान जितना नीला है,सूरजमुखी जितना पिला है,पानी जितना गीला है,आपका स्क्रू उतना ही ढीला है। - फनी शायरी

उधार ले-ले कर खाया( एडमिन द्वारा दिनाँक 21-07-2017 को प्रस्तुत )इस कदर उधार ले-ले कर खाया है हमने...कि दुकानदार भी हमारी ज़िन्दगी की दुआ करते हैं! - फनी शायरी

नखरे आपके तौबा-तौबागजब आपका स्टाईल है,मैसेज तो आप कभी करते नहीं,बस हल्ला मचा रखा है किहमारे पास भी मोबाईल है। फनी शायरी

पढ़ाई कर लो बेटा( सुबोध कुमार द्वारा दिनाँक 19-07-2018 को प्रस्तुत )प्यार मोहब्बत तो सब धोखा है,पढ़ाई कर लो बेटा अभी मौका है।-------------------------------------न वक्त इतना है कि सिलेबस पूरा किया जाए,न तरकीब कोई कि एग्जाम...

अर्ज़ किया है...कि बहार आने से पहले खिज़ां आ गई,और फूल खिलने से पहले बकरी खा गई। - फनी शायरी

leaf-right
leaf-right