बस मेरी तरह चाहे -लव शायरी

  • By Admin

  • October 31, 2021

उसके लिये तो मैंने यहाँ तक दुआएं की है,कि कोई उसे चाहे भी तो बस मेरी तरह चाहे।

लव शायरी

Related Post

न समझ मैं भूल गया हूँ तुझे,तेरी खुशबू मेरे सांसो में आज भी हैं ।मजबूरियों ने निभाने न दी मोहब्बत,सच्चाई मेरी वफाओ में आज भी हैं । लव शायरी

मुझे इश्तिहार सी लगती हैं,ये मोहब्बतों की कहानियाँजो कहा नहीं, वो सुना करो,जो सुना नहीं, वो कहा करो। - लव शायरी

वो पिला कर जाम लबों से अपनी मोहब्बत का,अब कहते हैं नशे की आदत अच्छी नहीं होती। लव शायरी

अक्सर ठहर कर देखता हूँअपने पैरों के निशान को,वो भी अधूरे लगते हैं - तेरे साथ के बिना। लव शायरी

चाँद को अपनी निगाहों में उतारो तो सही,हम चले आयेंगे दिल से पुकारो तो सही,दिल की दहलीज मोहब्बत से सजा रखी है,थोड़ा सा वक़्त हमारे साथ गुजारो तो सही। लव शायरी

एक हसीं राज़ लव शायरी( एडमिन द्वारा दिनाँक 16-06-2019 को प्रस्तुत )फिज़ाओं से उलझकर एक हसीं ये राज़ जाना है,जिसे कहते हैं मोहब्बत वो नशा ही कातिलाना है। - लव शायरी

leaf-right
leaf-right