मिले दोस्त तेरे जैसा -दोस्ती शायरी

  • By Admin

  • October 31, 2021

करनी है खुदा से गुजारिश कि,तेरी दोस्ती के सिवा कोई बंदगी न मिले,हर जन्म में मिले दोस्त तेरे जैसा,या फिर कभी जिंदगी न मिले।

दोस्ती शायरी

Related Post

शुक्रिया ऐ दोस्त( रुनझुन सिंह द्वारा दिनाँक 24-02-2018 को प्रस्तुत )शुक्रिया ऐ दोस्त मेरी ज़िन्दगी में आने के लिए,हर लम्हे को इतना खूबसूरत बनाने के लिए,तू है तो हर ख़ुशी पर मेरा नाम लिख गया...

भूल मत जाना दोस्त( रहीश रॉय द्वारा दिनाँक 14-11-2018 को प्रस्तुत )मंज़िलों से अपनी कभी दूर मत जाना,रास्तों की परेशानियों से टूट मत जाना,जब भी जरूरत हो ज़िन्दगी में अपनों की,ऐ दोस्त हम तेरे अपने...

आकाश में चमकते सितारे हो आप,चाँद के खूबसूरत नज़ारे हो आप,इस जिंदगी को जीने के सहारे हो आप,मेरे प्यार से भी प्यारे हो आप। - दोस्ती शायरी

दोस्त ही दोस्त को पहचान दिया करते हैं,दोस्त ही दोस्त को मुस्कान दिया करते हैं,जब जरूरत पड़ती है दोस्ती की खातिर,तो दोस्त ही दोस्त को जान दिया करते हैं। दोस्ती शायरी

एक ताबीज़ दोस्ती को( एडमिन द्वारा दिनाँक 28-12-2017 को प्रस्तुत )एक ताबीज़ तेरी मेरी दोस्ती को भी चाहिए...थोड़ी सी दिखी नहीं कि नज़र लगने लगती है। - दोस्ती शायरी

किसी ख़ास से मुलाकात( अरविन्द खुराना द्वारा दिनाँक 11-09-2017 को प्रस्तुत )खुदा से एक फरियाद वाकी है,प्यार जिन्दा है क्यूंकि एक याद वाकी है,मौत आये तो कह देंगे लौट जाए,क्यूंकि...अभी किसी ख़ास से मुलाकात वाकी...

leaf-right
leaf-right