मेरी फितरत – एटीट्यूड शायरी

मैं एक संजीदा साहिल हूँ,
मुझे मौजों से क्या मतलब,
कई तूफ़ान आये पर,
मेरी फितरत नहीं बदली।

- एटीट्यूड शायरी

Related Post

हमारी सादगी ही गुमनाम रखती है हमें,जरा सा बिगड़ जाएं तो मशहूर हो जाएं। एटीट्यूड शायरी

पीछा हम किया नहीं करते( अवनीश कुमार द्वारा दिनाँक 27-01-2018 को प्रस्तुत )Attitude about Love :-बेखुदी की जिंदगी हम जिया नहीं करते,जाम छीन कर किसी का पिया नहीं करते,प्यार करना है तो खुद आ के...

अंदाज़ कुछ अलग ही मेरे सोचने का है,सब को मंजिलों का है शौक मुझे रास्ते का है। - एटीट्यूड शायरी

हक़ से दो तो तुम्हारी नफरत भी कबूल हमें,खैरात में तो हम तुम्हारी मोहब्बत भी न लें। - एटीट्यूड शायरी

ऊँची हस्तियाँ भी देखीं( सत्येंद्र कुमार द्वारा दिनाँक 08-05-2018 को प्रस्तुत )हमने ऊँची हस्तियाँ भी देखीं और घनी बस्तियाँ भी देखीं,आवारगी भी देखी और कड़ी गिरफ़्तियाँ भी देखीं,उनसे कहो कि हमे उड़ना न सिखाये ऊँचे...

कहते है हर बात जुबां से हम इशारा नहीं करते,आसमां पर चलने वाले जमीं से गुज़ारा नहीं करते,हर हालात बदलने की हिम्मत है हम में,वक़्त का हर फैसला हम गँवारा नहीं करते। - एटीट्यूड शायरी

leaf-right
leaf-right