मेरे पैरों में चुभन -लव शायरी

  • By Admin

  • October 31, 2021

आसमान पे चाँद जल रहा होगा,किसी का दिल मचल रहा होगा,उफ़ ये मेरे पैरों में चुभन कैसी है,जरूर वो काँटों पर चल रहा होगा।

लव शायरी

Related Post

दिल तड़पता है इक ज़माने से,आ भी जाओ किसी बहाने से,बन गये दोस्त भी मेरे दुश्मन,इक तुम्हारे क़रीब आने से। लव शायरी

जिसको चाहो उसे चाहत बता भी देना,कितना प्यार है उससे ये जता भी देना,कि दिल उसका कहीं और ना लग जाए,करके इज़हार उसके दिल को चुरा भी लेना,गलती से रूठे कभी तो उसे मना भी...

तुम्हे जो याद करता हुँ, मै दुनिया भूल जाता हूँ ।तेरी चाहत में अक्सर, सभँलना भूल जाता हूँ ।। - लव शायरी

ऐ काश कि कोई ऐसा वक़्त भी आये,तू मेरे करीब... हमसफ़र हमख्याल हो,मेरी जुस्तजू बन के रहे हो हर कदम,अब मेरे संग मेरी ज़िंदगी बन के रहो।~आस्था पंडित - लव शायरी

सावन की बूंदों में झलकती है उनकी तस्वीर,आज फिर भीग बैठे हैं उन्हें पाने की चाहत में। लव शायरी

भंवर से निकलकर किनारा मिला है,जीने को फिर से एक सहारा मिला है,बहुत कशमकश में थी ये ज़िंदगी मेरी,उस ज़िंदगी में अब साथ तुम्हारा मिला है। लव शायरी

leaf-right
leaf-right