याद आती है तो -याद शायरी

  • By Admin

  • October 31, 2021

याद आती है तो याद में खो लेते हैं,आँसू आँखों में उतर आयें तो रो लेते हैं,नींद तो नहीं आती आँखों में लेकिन,आप सपनों में आयेंगे इस लिए सो लेते हैं।मिसिंग यू -

याद शायरी

Related Post

यादों को कम न करना( सतीश कुमार मौर्य द्वारा दिनाँक 08-02-2019 को प्रस्तुत )मेरे जाने का तू अब कोई ग़म न करना,अपनी खूबसूरत आँखों को नम न करना,मेरे अरमान तो मेरे दिल में ही जल...

बन कर अजनबी मिले थे ज़िंदगी के सफ़र में,इन यादों के लम्हों को मिटायेंगे नहीं,अगर याद रखना फितरत है आपकी,तो वादा है हम भी आपको भुलायेंगे नहीं। याद शायरी

मेरे क़ाबू में न पहरों दिले-नाशाद आया,वो मेरा भूलने वाला जो मुझे याद आया। याद शायरी

हद ए शहर से निकली तो( एडमिन द्वारा दिनाँक 25-06-2015 को प्रस्तुत )हद-ए-शहर से निकली तो गाँव गाँव चली,कुछ यादें मेरे संग पाँव पाँव चली ।सफ़र जो धूप का किया तो तजुर्बा हुआ,वो जिंदगी ही...

ना चाहकर भी मेरे लब पर ये फ़रियाद आ जाती है ।ऐ चाँद सामने न आ किसी की याद आ जाती है । - याद शायरी

वो वक़्त वो लम्हे कुछ अजीब होंगे,दुनिया में हम सबसे खुशनसीब होंगे,दूर से जब इतना याद करते हैं आपको,क्या होगा जब आप हमारे करीब होंगे. - याद शायरी

leaf-right
leaf-right