रोते उनकी याद में -याद शायरी

  • By Admin

  • October 31, 2021

जख्म ऐसा दिया कोई दवा काम न आयी,आग ऐसी लगी की पानी से भी बुझ न पायी,आज भी रोते हैं उनकी याद में - जिन्हें हमारी याद आज तक नहीं आई।

याद शायरी

Related Post

अगर खता हो गयी तो फिर सज़ा सुना दो,दिल में इतना दर्द क्यूँ है वजह बता दो,देर हो गयी आपको याद करने में जरूर,लेकिन तुमको भुला देंगे ये ख्याल मिटा दो। - याद शायरी

अगर खता हो गयी तो फिर सज़ा सुना दो,दिल में इतना दर्द क्यूँ है वजह बता दो,देर हो गयी आपको याद करने में जरूर,लेकिन तुमको भुला देंगे ये ख्याल मिटा दो। याद शायरी

जहाँ भूली हुई यादें दामन थाम लें दिल का, वहां से अजनबी बन कर गुज़र जाना ही अच्छा है। याद शायरी

दिल में आप हो और कोई खास कैसे होगा,यादों में आपके सिवा कोई पास कैसे होगा,हिचकियॉं कहती हैं आप याद करते हो,पर बोलोगे नहीं तो मुझे एहसास कैसे होगा। याद शायरी

तन्हाई मेरे दिल में( एडमिन द्वारा दिनाँक 04-02-2015 को प्रस्तुत )तन्हाई मेरे दिल में समाती चली गयी,किस्मत भी अपना खेल दिखाती चली गयी,महकती फ़िज़ा की खुशबू में जो देखा प्यार को,बस याद उनकी आई और...

तकिये के लिहाफ में छुपाकर रखी हैं तेरी यादें,जब भी तेरी याद आती है मुँह छुपा लेता हूँ। याद शायरी

leaf-right
leaf-right