हम जाने नहीं देते -एटीट्यूड शायरी

  • By Admin

  • October 31, 2021

तुम ज़िंदगी में आ तो गए हो मगर इतना याद रखना,हम जान दे देते हैं मगर जाने नहीं देते - ।

एटीट्यूड शायरी

Related Post

बैठता वहीं हूँ, जहाँ अपनेपन का अहसास है मुझको,यूँ तो ज़िंदगी में कितने ही लोग आवाज देते हैं मुझको। - एटीट्यूड शायरी

हज़ारों जैसा न समझना( एडमिन द्वारा दिनाँक 26-12-2015 को प्रस्तुत )ना तो बिका हूँ ना ही कभी बिक पाऊंगा,ये ना समझना मै भी हज़ारो जैसा हूँ। - एटीट्यूड शायरी

अगर तेवर न दिखाओ( एडमिन द्वारा दिनाँक 28-01-2019 को प्रस्तुत )तेवर न दिखाओ तो लोग आँख दिखाने लग जाते हैं।-------------------------------------हम जैसे इतिहास रचते हैं तेरे जैसे पढ़ते हैं।-------------------------------------हम अपना इक्का तभी दिखाते हैं जब सामने...

हम तो आईना हैं आईना ही रहेंगे,फ़िक्र वो करें - जिनके चेहरे पर कुछ औरदिल में कुछ और है। एटीट्यूड शायरी

जरा सा बिगड़ जाएं( एडमिन द्वारा दिनाँक 13-12-2017 को प्रस्तुत )हमारी सादगी ही गुमनाम रखती है हमें,जरा सा बिगड़ जाएं तो मशहूर हो जाएं। - एटीट्यूड शायरी

हम तो आईना हैं आईना ही रहेंगे,फ़िक्र वो करें...जिनके चेहरे पर कुछ औरदिल में कुछ और है। - एटीट्यूड शायरी

leaf-right
leaf-right