होठों पे सदा मुस्कान -दोस्ती शायरी

  • By Admin

  • October 31, 2021

नन्हे से दिल में अरमान कोई रखना,दुनिया की भीड़ में पहचान कोई रखना,अच्छे नहीं लगते जब तुम रहते हो उदास,अपने होठों पे सदा मुस्कान कोई रखना।

दोस्ती शायरी

Related Post

हम वो फूल हैं जो रोज़ रोज़ नहीं खिलते,यह वो होंठ हैं जो कभी नहीं सिलते,हम से बिछड़ोगे तो एहसास होगा तुम्हें,हम वो दोस्त हैं जो रोज़ रोज़ नहीं मिलते। दोस्ती शायरी

मांगी थी दुआ हमने रब से,मुझे दोस्त दो जो अलग हो सबसे,उसने मिला दिया हमें आपसे,और कहा संभालो इसे ये अनमोल है सबसे। - दोस्ती शायरी

हर ख़ुशी दिल के करीब नहीं होती,ज़िन्दगी ग़मों से दूर नहीं होती,ऐ दोस्त दोस्ती को संजो कर रखना,दोस्ती हर किसी को नसीब नहीं होती। - दोस्ती शायरी

काश वो पल साथ बिताए ना होते,तो आँखों में ये आँसू आए ना होते,जिनसे रहा ना जाए एक पल भी दूर,काश ऐसे प्यारे दोस्त बनाए ना होते। दोस्ती शायरी

सबसे अलग सबसे न्यारे( एडमिन द्वारा दिनाँक 14-05-2015 को प्रस्तुत )सबसे अलग सबसे न्यारे हो आप,तारीफ कभी पुरी ना हो इतने प्यारे हो आप।आज पता चला जमाना क्यों जलता है हमसे,क्यों कि दोस्त तो आखिर...

खुश हूँ और सबको खुश रखता हूँ,लापरवाह हूँ फिर भी सबकी परवाहकरता हूँ..मालूम है कोई मोल नहीं मेरा,फिर भी,कुछ अनमोल लोगों सेदोस्ती रखता हूँ। दोस्ती शायरी

leaf-right
leaf-right