2 Line Shayari Main Nind Ka Shokeen – 2 Line Shayari

मैं नींद का शोकीन ज्यादा तो नही..
लेकिन तेरे ख्वाब ना देखूँ तो.. गुजारा नही होता..!!


मुहब्बत नहीं है नाम सिर्फ पा लेने का..
बिछड़ के भी अक्सर दिल धड़कते हैं साथ-साथ..!!


मुश्किल भी तुम हो, हल भी तुम हो ,
होती है जो सीने में , वो हलचल भी तुम हो ..!!


चेहरे के रंग को देखकर दोस्त ना बनाना.. दोस्तों ..
तन का काला तो चलेगा लेकिन मन का काला नहीं।


दामन को फैलाये बैठे हैं अलफ़ाज़-ए-दुआ कुछ याद नही
माँगू तो अब क्या माँगू जब तेरे सिवा कुछ याद नही


तुझे भूलने के लिए मुझे सिर्फ़ एक पल चाहिए,
वह पल! जिसे लोग अक्सर मौत कहते हैं…!!


अब लोग पूछते हैं हमसे.. तुम कुछ बदल गए हो
बताओ टूटे हुए पत्ते अब .. रंग भी न बदलें क्या..!!


छोटा है मुहब्बत लफ्ज, मगर तासीर इसकी प्यारी है.
इसे दिल से करोगे तुम, तो ये सारी दुनियाँ तुम्हारी है.


क्या क्या रंग दिखाती है जिंदगी क्या खूब इक्तेफ़ाक होता है,
प्यार में ऊम्र नहीँ होती पर हर ऊम्र में प्यार होता है..!!


तुम्हारी याद की शिद्दत में बहने वाला अश्क
ज़मीं में बो दिया जाए तो आँख उग आए..!!

- 2 Line Shayari

Related Post

Chah kar bhi poochh nahi sakte haal unka, Dar hai kahi kah na de ke ye haq tumhe kisne diya. ? चाह कर भी पूछ नहीं सकते हाल उनका, डर है कहीं कह ना दे...

तरस आता है मुझे अपनी मासूम सी पलकों पर, जब भीग कर कहती है की अब रोया नहीं जाता। तारे और इंसान में कोई फर्क नहीं होता, दोनो ही किसी की ख़ुशी के लिऐ खुद...

गुलशन तो तू है मेरा, बहारों का मैं क्या करूँ, नैनों मैं बस गए हो तुम, नज़ारों का मैं क्या करूँ। ? तुम साथ हो तो दुनियां अपनी सी लगती है, वरना सीने मे सांसे...

Nikle hum duniya ki bhid mein to pata chala, Har wo shakhs tanha hai jisne pyar kiya. Hum Ne Liya Sirf Honton Se Jo Naam Tumhara, Dil Honton Se Ulajh Para K Yeh Sirf Mera...

परवाह नहीं चाहे जमाना कितना भी खिलाफ हो, चलूँगा उसी राह पर जो सीधी और साफ हो। मेरी आवाज को महफूज कर लो.. मेरे दोस्त मेरे बाद बहुत सन्नाटा होगा.. तुम्हारी महफ़िल में। कभी शाम...

मोहब्बत न सही मुकदमा कर दे मुज पर.. कम से कम तारीख दर तारीख मुलाकात तो होगी। मुझे बदनाम करने का बहाना ढूँढ़ते हो क्यों, मैं खुद हो जाऊंगा बदनाम पहले नाम होने दो। जिन...

leaf-right
leaf-right