2 Line Shayari Manjar Bhi Be Noor The – 2 Line Shayari

मंजर भी बेनूर थे और फिजायें भी बेरंग थी..
बस तुम याद आए और मौसम सुहाना हो गया।


फितरत, सोच और हालात में फर्क है..
वरना, इन्सान कैसा भी हो दिल का बुरा नही होता।


गिरा दे जितना पानी है तेरे पास ऐ बादल.
ये प्यास किसी के मिलने से बुझेगी तेरे बरसने से नही।


तकलीफें तो हज़ारों हैं इस ज़माने में,
बस कोई अपना नजऱ अंदाज़ करे तो बर्दाश्त नहीं होता।


तना पानी है तेरे पास ऐ बादल,
ये प्यास किसी के मिलने से बुझेगी तेरे बरसने से नही।


मंजर भी बेनूर थे और फिजायें भी बेरंग थी..
बस तुम याद आए और मौसम सुहाना हो गया।


आजकल के हर आशिक की अब तो यही कहानी है..
मजनू चाहता है लैला को, लैला किसी और की दीवानी है।


मोहब्बत वक़्त के बे-रहम तूफान से नही डरती ,
उससे कहना, बिछड़ने से मोहब्बत तो नही मरती।


जिंदगी के रूप में दो घूंट मिले,
इक तेरे इश्क का पी चुके हैं.. दुसरा तेरी जुदाई का पी रहे हैं।


मुस्कुराने की आदत भी कितनी महँगी पड़ी हमे,
छोड़ गया वो ये सोच कर की हम जुदाई मे भी खुश हैं।

- 2 Line Shayari

Related Post

कभी हमसे भी, पूछ लिया करो हाल-ए-दिल, कभी हम भी तो कह सकें, दुआ है आपकी। ? यूँ असर डाला है, मतलबी लोगों ने दुनिया पर, हाल भी पूछो तो, लोग समझते हैं कि कोई...

चेहरे अजनबी हो जाये तो कोई बात नही, लेकिन रवैये अजनबी हो जाये तो बडी तकलीफ देते हैं। मेरे टूटने की वजह मेरे जौहरी से पूछो, उसकी ख्वाहिश थी कि मुझे थोड़ा और तराशा जाय।...

मुमकिन नहीं है हर रोज मोहब्बत के नए किस्से लिखना, मेरे दोस्तों अब मेरे बिना अपनी महफ़िल सजाना सीख लो। कल क्या खूब इश्क़ से मैने बदला लिया, कागज़ पर लिखा इश्क़ और उसे ज़ला...

Tujhe kitna Kaha Tha ki Mujhe Apna Na Bana, Ab Muje Chor Ke Duniya Mein Tamasha Na Bana. Le Lo Wapas Wo Aansu Wo Tadap Aur Wo Yaadain Saari, Nahi Koi Jurm Hamara to Phir...

तोड़ कर जोड़ लो चाहे हर चीज़ दुनिया की.. सब की मरम्मत मुमकिन है एतबार के सिवा| बहके बहके ही, अँदाज-ए-बयां होते है.. आप होते है तो, होश कहाँ होते है| हँसी यूँ ही नहीं...

एक उमर बीत चली है तुझे चाहते हुए, तू आज भी बेखबर है कल की तरह। जब नफ़रत करते करते थक जाओ.. तो एक मौका प्यार को भी दे देना। खामोशियाँ बहुत कुछ कहती हैं,...

leaf-right
leaf-right