2 Line Shayari Nazron Se Door – 2 Line Shayari

नज़रों से दूर सही दिल के बहुत पास है तू..
बिखरी हुई इस ज़िन्दगी में मेरे जीने की आस है तू..


वो मेरी हर दुआ में शामिल था
जो किसी और को बिन मांगे मिल गया


तुम थोड़ी सी ‪#‎फुलझड़ी‬ क्या हुई..
पूरा मौहल्ला ही ‪#‎माचिस‬ हो गया..


काश तुझे सर्दी के मौसम मे लगे मुहब्बत की ठंड,
और तू तड़प कर माँगे मुझे कम्बल की तरह..!


कहाँ ढूँढ़ते हो तुम इश्क़ को ऐ-बेखबर
ये खुद ही ढून्ढ लेता है जिसे बर्बाद करना हो ..


मैने कहा बडी तीखी‬ मिर्च होयार तुम..!!
वो.. मेरे होठचुम करबोलीऔर अब!!


Aaj Koi ‪‎Shayari‬ Nahi Bas Itna ‪Sun‬ Lo
Mei ‪Tanha‬ Hu aur ‪‎Wajah‬ Tum Ho…!!


Rehte Hain Aas-Paas Hi Lekin Saath Nahi Hote..
Kuch Log Jalte Hain Mujhse Bus Qaakh Nahi Hote!!


बचपन में तो शामें भी हुआ करती थी,
अब तो बस सुबह के बाद रात हो जाती है!


Udne de inn parindon ko ae dost,
jo tere honge laut hi aayenge kisi roz!

- 2 Line Shayari

Related Post

हमें भी आते है अंदाज़ दिल तोड़ने के, हर दिल में ख़ुदा बसता है यही सोचकर चुप हूँ। मंजिल का नाराज होना भी जायज था, हम भी तो अजनबी राहों से दिल लगा बैठे थे।...

ख़ामोशी बहुत कुछ कहती हे, कान लगाकर नहीं, दिल लगाकर सुनो। मुझे सिर्फ दो चीजों से डर लगता है, 1 तेरे रोने से और 2 तुझे खोने से। मुझसे इश्क, मुहब्बत, प्यार न कर, अपनी...

खटखटाए न कोई दरवाजा, बाद मुद्दत मैं खुद में आया हूँ, एक ही शख़्स मेरा अपना है, मैं उसी शख़्स से पराया हूँ। देखी जो नब्ज मेरी, हँस कर बोला वो हकीम, जा जमा ले...

लिखते हैं सदा उन्हीं के लिए, जिन्होंने हमें कभी पढ़ा ही नहीं। दुआ करना दम भी उसी दिन निकले, जिस दिन तेरे दिल से हम निकले। ? मिला है सब कुछ तो फरियाद क्या करे,...

Meri zindagi se khelna to sab ki aadat ban gayi hai, Kash hum khilona ban ke bikte to Aaj kisi ek ke to ho hi jate… Kash tum humare hote saas hi ruk jati, Agar...

फिर कोई ज़ख़्म मिलेगा, तैयार रह ऐ दिल, कुछ लोग फिर पेश आ रहे हैं, बहुत प्यार से। इतनी करुंगा मुहब्बत के तू खुद कहेगी, देखो वो.. मेरा आशिक़ जा रहा है। जिद, जुनून, जिंदगी,...

leaf-right
leaf-right