2 Line Shayari Teri Gali Me Aakar – 2 Line Shayari

तेरी गली में आकर के खो गये हैं दोंनो,
मैं दिल को ढ़ूँढ़ता हुँ दिल तुमको ढ़ूँढ़ता है।

Humari ‪shayari‬ padh kar bas itna sa bole wo,
‪kalam‬ cheen lo inse.. ye ‪lafz‬ ‪dil‬ cheer dete hai.

तुम आए थे, पता लगा, सुन कर अच्छा भी लगा,
पर गैरों से पता चला, बेहद बुरा लगा।

Aaj Koi ‪#‎Shayari‬ Nhi Bas Itna Sun Lo,
Main ‪‎Tanha‬ hun Aur ‪Wajah‬ Tum Ho.

Jee Chahe Ki Duniya Ki Har Ek ‪#‎Fikra‬ Bhula Kar,
Kuchh ‪shayari‬ Sunau Me Tujhe Pass Bitha Kar।

Ab woh armaan hain, na woh sapnay..
Sab qabootar urra gaya koi.

औक़ात नही थी जमाने में जो मेरी कीमत लगा सके,
कबख़्त इश्क में क्या गिरे, मुफ़्त में नीलाम हो गए।

अकसर भुल जाती हूँ मैं तुम्हें शाम की चाय में चीनी की तरह,
फिर जिंदगी का फीकापन तुम्हारी कमी का एहसास दिला देता है।

मुझसे नफरत ही करनी है तो इरादे मजबूत रखना,
जरा से भी चुके तो महोब्बत हो जायेगी।

तेरी जरूरत, तेरा इंतजार और ये तन्हा आलम,
थक कर मुस्कुरा देती हूँ, मैं जब रो नहीं पाती।

सीने में धङकता जो हिस्सा है,
उसी का तो ये सारा किस्सा है।

- 2 Line Shayari

Related Post

मुमकिन नहीं है हर रोज मोहब्बत के नए किस्से लिखना, मेरे दोस्तों अब मेरे बिना अपनी महफ़िल सजाना सीख लो। कल क्या खूब इश्क़ से मैने बदला लिया, कागज़ पर लिखा इश्क़ और उसे ज़ला...

अजीब तमाशा है मिट्टी से बने लोगो का, बेवफाई करो तो रोते है और वफा करो तो रुलाते है। अकेला वारिस हूँ उसकी तमाम नफरतों का, जिसके सारे शहर में आशिक हजार है। मोहब्बत तेरी...

इश्क तो बेपनाह हुआ कसम से, गलती बस ये हुई कि हुआ तुमसे। तेरी याद ही तो एक ऐसी चीज है, जो ना चाहते हुए भी आ ही जाती है। दुआ करना दम भी इस...

​दो मुलाक़ात क्या हुई हमारी तुम्हारी, ​निगरानी मे सारा शहर लग गया। क़ैद ख़ानें हैं बिन सलाख़ों के, कुछ यूँ चर्चें हैं तुम्हारी आँखों के। फर्क नहीं पडता दुश्मन कि संख्या कितनी है, जीत तो...

Mere saamne kar diye meri tasveer k Tukde-Tukde.. Pata chala mere peechhe wo unhe jod kar bahut Roye. उन्होंने वक़्त समझकर गुज़ार दिया हमको.. और हम.. उनको ज़िन्दगी समझकर आज भी जी रहे हैं. Ae...

एक उमर बीत चली है तुझे चाहते हुए, तू आज भी बेखबर है कल की तरह। जब नफ़रत करते करते थक जाओ.. तो एक मौका प्यार को भी दे देना। खामोशियाँ बहुत कुछ कहती हैं,...

leaf-right
leaf-right