Hindi Shayari Tarika Mere Qatil Ka – 2 Line Shayari

वह मेरा वेहम था की वो मेरा हमसफ़र है,
वह चलता तो मेरे साथ था पर किसी और की तलाश में।


तरीका मेरे क़त्ल का, ये भी इजाद करो..
कि मर जाऊँ मै हिचकियो से, मुझे इतना याद करो।


गर मेरी चाहतों के मुताबिक ज़माने की हर बात होती
तो बस मैं होता तुम होती और सारी रात बरसात होती।


जब फुरसत मिले तो चाँद से मेरे दर्द की कहानी पुछ लेना,
एक वो ही है मेरा हमराज तेरे जाने के बाद।


नकाब तो उनका सर से ले कर पांव तक था..
मगर आँखे बता रही थी के मोहब्बत के शौकीन थे वो।

- 2 Line Shayari

Related Post

बस यही दो मसले जिंदगी भर ना हल हुए, ना नींद पूरी हुई ना ख्वाब मुकम्मल हुए! ? हमारी पसंद अपनी, निगाह से न तोलिये.. यह दिल के मामले हैं, इनमें न बोलिये! ये कैसा...

ताश के पत्ते खुशनसीब है यारों, बिखरने के बाद उठाने वाला तो कोई है। ? उलझते सुलझते हुए जिंदगी के हर पल और, खुश्बू बिखेरता हुआ तेरा खुश्बुदार सा ख्याल। ? कौन कहता है आग...

में तो आशिक़ हु सिर्फ एक बार मरूँगा, लेकिन मेरे ‎प्यार‬ की सच्चाई जानकर वो बार बार मरेंगी। इंतेजार भी कितनी अजीब चीज हे ना खुद करे तो, गुस्सा आता है, और.. दूसरा कोई करे...

khamosh aankhon mein aur kitni wafa rakhu, tumhi ko chahu ki tumhi se Fasla rakhi. ?? खामोश आँखों में और कितनी वफ़ा रखूं, तुम्ही को चाहूँ कि तुम्हीं से फासला रखूं। ?? - 2 Line...

तुम दूर हो या पास फर्क किसे पड़ता है, तू जँहा भी रहे तेरा दिल तो यँही रहता है..!! पहली बारिश का नशा ही कुछ अलग होता हैं, पलको को छूते ही सीधा दिल पे...

Jo aankhon mein hui baatein wo sabse hasin thi, lafzon mein bayaan karke unhe ilazam na do. ?? जो आँखों में हुई बातें वो सबसे हसीन थीं, लफ़्ज़ों में बयान करके उन्हें इलज़ाम ना दो।...

leaf-right
leaf-right