अश्क़ शायरी

हर रात रो रो के -अश्क़ शायरी

हर रात रो-रो के उसे भुलाने लगे,आंसुओं में उस के प्यार को बहाने लगे,ये दिल भी कितना अजीब है कि,रोये हम तो वो और भी याद आने लगे ।
अश्क़ शायरी

Popular Pages