दर्द शायरी

शायरी में दर्द – दर्द शायरी – दर्द शायरी

शायरी में दर्द
( एडमिन द्वारा दिनाँक 30-11-2015 को प्रस्तुत )
ना किया कर अपने दर्द कोशायरी में बयान ऐ दिल,कुछ लोग टूट जाते हैंइसे अपनी दास्तान समझकर।

– दर्द शायरी

दर्द है दिल में – दर्द शायरी – दर्द शायरी

दर्द है दिल में
( एडमिन द्वारा दिनाँक 18-11-2015 को प्रस्तुत )
दर्द है दिल में पर इसका एहसास नहीं होता,रोता है दिल जब वो पास नहीं होता,बर्बाद हो गए हम उसके प्यार में,और वो कहते हैं इस तरह प्यार नहीं होता।

– दर्द शायरी

तमाशा बना दिया – दर्द शायरी – दर्द शायरी

तमाशा बना दिया
( एडमिन द्वारा दिनाँक 15-10-2015 को प्रस्तुत )
कितना लुत्फ ले रहे हैं लोग मेरे दर्द-ओ-ग़म का,ऐ इश्क देख तूने तो मेरा तमाशा ही बना दिया।

– दर्द शायरी

तसवीर है ना तुम हो – दर्द शायरी – दर्द शायरी

तसवीर है ना तुम हो
( एडमिन द्वारा दिनाँक 10-10-2015 को प्रस्तुत )
ना तस्वीर है तुम्हारी जो दीदार किया जाये,ना तुम हो मेरे पास जो प्यार किया जाये,ये कौन सा दर्द दिया है तुमने ऐ सनम,ना कुछ कहा जाये ना तुम बिन रहा जाये।

– दर्द शायरी