दो लाइन शायरी

ख़्वाहिशों का झगड़ा शायरी – दो लाइन शायरी – दो लाइन शायरी

ख़्वाहिशों का झगड़ा शायरी
( प्रीत द्वारा दिनाँक 14-12-2015 को प्रस्तुत )
ज़िन्दगी में सारा झगड़ा ही ख़्वाहिशों का हैना तो किसी को गम चाहिए…ना ही किसी को कम चाहिए।

– दो लाइन शायरी

यकीन और फरेब शायरी – दो लाइन शायरी – दो लाइन शायरी

यकीन और फरेब शायरी
( एडमिन द्वारा दिनाँक 15-12-2015 को प्रस्तुत )
यकीन नहीं होता फिर भी कर ही लेता हूँ,जहाँ इतने हुए एक और फरेब हो जाने दो ।

– दो लाइन शायरी

बाजारे मोहब्बत में – दो लाइन शायरी – दो लाइन शायरी

बाजारे मोहब्बत में
( प्रीत द्वारा दिनाँक 16-12-2015 को प्रस्तुत )
न मेरा नाम था न दाम थाबाजारे मोहब्बत में,तुमने भाव पूछकर अनमोल कर दिया।

– दो लाइन शायरी

हर एक शब्द मोहब्बत शायरी – दो लाइन शायरी – दो लाइन शायरी

हर एक शब्द मोहब्बत शायरी
( एडमिन द्वारा दिनाँक 24-12-2015 को प्रस्तुत )
आसान नही है हमसे यूँ शायरिओं में जीत पाना,हम हर एक शब्द मोहब्बत में हार कर लिखते है।

– दो लाइन शायरी